गुरु नानक देव जी के ज्ञानमय विचार | Guru Nanak Dev Quotes In Hindi


Guru Nanak Dev Ji Quotes : गुरु नानक देव दस सिख गुरुओं में से पहले और सिख धर्म के संस्थापक थे। गुरु नानक देव जी के जन्मदिन को दुनिया भर में 'गुरु नानक गुरुपुरब' के रूप में मनाया जाता है। उन्हें अब तक के सबसे अच्छे धार्मिक विचारकों में से एक माना जाता है। उन्होंने यह संदेश फैलाने के लिए यात्रा की कि केवल एक ईश्वर है। उन्हें गुण, समानता, अच्छाई और प्रेम के आधार पर एक विशिष्ट सामाजिक, राजनीतिक और आध्यात्मिक मंच स्थापित करने के लिए मान्यता प्राप्त है। गुरु नानक के विचारों (Guru Nanak Quotes) और शब्दों को सिख धर्म के पवित्र ग्रंथ 'गुरु ग्रंथ साहिब' में 974 काव्यात्मक भजनों के रूप में सूचीबद्ध किया गया है। गुरु नानक द्वारा कुछ उल्लेखनीय विचारों (Guru Nanak Ji Quotes) , शब्दों और कथनों का अनुसरण किया जा रहा है, जिन्होंने बुद्धिमत्तापूर्ण जीवन का नेतृत्व किया।

गुरु नानक देव इमेज फोटो वॉलपेपर , गुरु नानक देव जी की इमेज फोटो ,Guru Nanak Dev Ji Image Photo Wallpaper, Guru Nanak Photo/Image,Guru Nanak Dev Quotes Image Pic,Sikh Guru Image


श्री गुरु नानक देव के हिंदी विचार | Guru Nanak Quotes In Hindi


 1. बोलो केवल वही जो आपको सम्मान दिलाए – गुरु नानक देव

2. जिसे अपने आप विश्वास नहीं वह व्यक्ति कभी उस परमात्मा पर विश्वास नहीं रख सकता – गुरु नानक देव

3. सांसारिक प्रेम को जलाओ, राख को रगड़ो और उसकी स्याही बनाओ और हृदय को कलम एवं बुद्धि को लेखक बना कर वह लिखो जिसका कोई अंत या सीमा नहीं हो – गुरु नानक देव

4. ईश्वर एक ही है। परमात्मा का नाम ही सत्य है, वह निर्माता है। वह किसी से नहीं भय नहीं करता ,परमात्मा में नफरत का अंश नहीं है।  जन्म और मृत्यु के चक्र से ईश्वर परे है। वही सत्य था सत्य है और हमेशा रहेगा, अर्थात जो कुछ भी है वो परमात्मा है – गुरु नानक देव

5. संसार में सबसे बड़ा गुरु माँ बाप हैं – गुरु नानक देव

6. परमात्मा को उन लोगो ने ही पाया जो उन्हें सच्चे मन से प्रेम करते है – गुरु नानक देव

7. दुनिया एक नाटक के समान है, जिसका सपने में मंचन किया गया – गुरु नानक देव

8. इस संसार में किसी भी मनुष्य को भ्रम में न रहने दो , गुरु के बिना कोई अन्य हमें इस संसार से पर नहीं लगा सकता – गुरु नानक देव

9. वे लोग लाश के समान है जो उस परमात्मा के दिए हुए धन को स्वय उपयोग करते हैं ,अगर वह लोग उस धन को दूसरे लोगो के साथ साँझा करते हैं तो यह भोजन बन जाता है – गुरु नानक देव

10. पाप और बुराई के बिना धन की प्राप्ति नहीं की जा सकती – गुरु नानक देव

11. मेरी समाजिक स्थिति आपकी दया है – गुरु नानक देव

12. मृत्यु को बुरा नहीं कहता अगर पता होता कि सच में मरना किसे कहते है – गुरु नानक देव


गुरु नानक देव जी के विचार | Guru Nanak Dev Ji Quotes



13. कोई भी ईश्वर को तर्क के माध्यम से नहीं समझ सकता, भले ही वह उम्र का कारण हो – गुरु नानक देव

14. तेरी हजारों आँखें हैं परन्तु फिर भी एक आँख नहीं , तेरी हजारों हाथ हैं परन्तु फिर भी एक हाथ नहीं – गुरु नानक देव

15. न ही कोई हिन्दू है और न कोई मुस्लमान , सभी मनुष्य एक समान है – गुरु नानक देव

16.  अगर किसे दूसरे मनुष्य का दुःख देख आपको भी दुःख हो तो समझ लीजिए कि परमात्मा ने आपको बना कर कोई गलती नहीं की – गुरु नानक देव

17. ईश्वर एक है ,उसके कई रूप है और वह ही सभी मनुष्य का निर्माता है ,वह स्वंय भी मनुष्य रूप लेता है – गुरु नानक देव

18. रस्सी के अज्ञान के कारण रस्सी सांप प्रतीत होती है; स्वयं की अज्ञानता के कारण क्षणिक अवस्था स्व के व्यक्तिगत, सीमित, अभूतपूर्व पहलू से उत्पन्न होती है – गुरु नानक देव

19. उसे लगातार एकांत में ध्यान करने दें जो उसकी आत्मा के लिए सलाम है, क्योंकि जो एकांत में ध्यान करता है वह परम आनंद को प्राप्त करता है – गुरु नानक देव

20. जिस व्यक्ति ने अपने मन पर काबू कर लिया वह पुरे संसार पर काबू पा सकता है  – गुरु नानक देव

21. मूर्ख लोग ही तर्क देते हैं कि मांस खाना चाहिए या नहीं। मुर्ख व्यक्ति सत्य को नहीं समझता और न ही वे इस पर ध्यान देता हैं। कौन नहीं जानता कि पाप कहाँ है, शाकाहारी या मांसाहारी होना में – गुरु नानक देव

22. जात-पात ईश्वर ने नहीं इंसान ने बनाए हैं – गुरु नानक देव

23. मैं संसार में इस लिए हूँ ताकि लोगो को सही राह दिखा सकूं  – गुरु नानक देव


Post a Comment

0 Comments