चंद्रशेखर वेंकट रमन के ज्ञानमय विचार | CV Raman quotes In Hindi

About CV Raman In Hindi : चंद्रशेखर वेंकट रमन (सीवी रमन) एक भारतीय भौतिक विज्ञानी थे जो मुख्य रूप से प्रकाश प्रकीर्णन के क्षेत्र में अपने काम के लिए जाने जाते थे। सी.वी. रमन का आविष्कार उनके ही नाम पर रामन प्रभाव के नाम से जाना जाता है। 28 फरवरी 1928 को चन्द्रशेखर वेंकट रामन् ने रामन प्रभाव की खोज की थी जिसकी याद में भारत में इस दिन को हर वर्ष राष्ट्रीय विज्ञान दिवस (National Science Day) के रूप में मनाया जाता है।

सीवी रमन के अनमोल विचार | Sir CV Raman Thoughts In Hindi


1. विज्ञान का सार स्वतंत्र सोच, कड़ी मेहनत और उपकरण नहीं है। जब मुझे अपना नोबेल पुरस्कार मिला, तो मैंने अपने उपकरणों पर मुश्किल से 200 रुपये खर्च किए थे – चंद्रशेखर वेंकट रमन

2. 1921 की गर्मियों में यूरोप की एक यात्रा ने मुझे भूमध्य सागर के अद्भुत नीले रंग के ओपल्सेशन को देखने का पहला अवसर दिया। ऐसा प्रतीत नहीं होता था कि पानी के अणुओं द्वारा सूर्य के प्रकाश के प्रकीर्णन के लिए इस घटना का मूल कारण था – सी वी रमन

3. मैं अपने से पहले युवा पुरुषों और महिलाओं से कहना चाहूंगा कि आशा और साहस न खोएं। सफलता केवल आपके सामने पड़े कार्य के लिए साहसी भक्ति से आपके पास आ सकती है –  चंद्रशेखर वेंकट रमन

4. हमें मातृभाषा में विज्ञान पढ़ाना चाहिए। अन्यथा, विज्ञान एक उच्च गतिविधि बन जाएगा। यह ऐसी गतिविधि नहीं होगी जिसमें सभी लोग भाग ले सकें –  चंद्रशेखर वेंकट रमन

5. मुझे लगता है कि यह अस्वाभाविक और अनैतिक है कि एक विदेशी भाषा में बच्चों को विज्ञान पढ़ाने की कोशिश करें। वे तथ्यों को जानेंगे, लेकिन वे आत्मा को याद करेंगे – चंद्रशेखर वेंकट रमन

6. विज्ञान के इतिहास में, हम अक्सर पाते हैं कि ज्ञान की एक नई शाखा के विकास में कुछ प्राकृतिक घटना का अध्ययन प्रारंभिक बिंदु रहा है – सीवी रामन

7. आधुनिक भौतिक विज्ञान की पूरी रचना पदार्थ के परमाणु या आणविक संविधान की मौलिक परिकल्पना पर आधारित है – चंद्रशेखर वेंकट रमन

8. मुझे लगता है कि यह अस्वाभाविक और अनैतिक है कि एक विदेशी भाषा में बच्चों को विज्ञान पढ़ाने की कोशिश करें। वे तथ्यों को जानेंगे, लेकिन वे आत्मा को याद करेंगे –  सी वी रमन

सीवी रमन के विचार | Dr CV Raman Quotes In Hindi


9. हमने एक हीन भावना विकसित की है। मुझे लगता है कि आज भारत में उस पराजयवादी भावना का नाश होना आवश्यक है –  चंद्रशेखर वेंकट रमन

10. मेरा दृढ़ता से मानना ​​है कि मौलिक विज्ञान को निर्देशात्मक, औद्योगिक, सरकारी या सैन्य दबावों द्वारा संचालित नहीं किया जा सकता है। यही कारण था कि मैंने निर्णय लिया, जहां तक ​​संभव हो, सरकार से धन स्वीकार नहीं करुंगा – सीवी रमन

11. फरवरी 1928 के अंत में, मैंने क्वार्ट्ज ट्यूबों में सील व्यावसायिक रूप से उपलब्ध पारा आर्क्स की सहायता से प्राप्त शानदार मोनोक्रोमेटिक रोशनी का उपयोग करने का निर्णय लिया – चंद्रशेखर वेंकट रमन

12. ऐसा लग रहा था ,वास्तव में प्रकाश-प्रकीर्णन का अध्ययन भौतिकी और रसायन विज्ञान की गहरी समस्याओं में से एक को ले जा सकता है और यह विश्वास था जिसके कारण उस समय से कलकत्ता में हमारी गतिविधियों का मुख्य विषय बन गया – सीवी रमन

13. आप अपनी जीवन में यह निर्णय नहीं कर सकते कौन आपके जीवन में आएगा,परन्तु आप उनसे सीख सकते हैं कि वह आपको क्या सीख सिखाते हैं –चंद्रशेखर वेंकट रमन

14. अपनी असफलता का मालिक मैं स्वंय हूँ ,अगर मैं कभी जीवन में असफल नहीं होता तो इतना सब कुछ मैं कैसे सीख पाता – सीवी रमन

15. किसी भी कम में अप्प दृढ़ संकलप से ही सफलता पा सकते है –चंद्रशेखर वेंकट रमन



Post a Comment

0 Comments